Thursday, October 28, 2021
spot_img
HomeRegionCM सोरेन ने फहराया तिरंगा, बोले- झारखंड के लोगों को उनका हक...

CM सोरेन ने फहराया तिरंगा, बोले- झारखंड के लोगों को उनका हक दिलाने के लिए सरकार वचनबद्ध



अविनाश कुमार 
रांची. 15 अगस्त (15 August) के मौके पर रांची के मोरहाबादी मैदान में राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Chief Minister Hemant Soren) ने झंडोत्तोलन किया. इस मौके पर राज्य की जनता को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कुल 38 बिंदुओं पर अपनी बात रखी. स्वतंत्रता दिवस के मौके पर राज्य की हेमंत सोरेन सरकार के द्वारा किये जा रहे कार्य और राज्य सरकार की विकास योजनाएं इसमें शामिल रही. मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन की शुरुआत देश और राज्य के वीर सपूतों की शहादत को नमन करते हुए की. हेमंत सोरेन ने स्वतंत्रता की लड़ाई में झारखंड (Jharkhand) के वीर योद्धाओं को भी विशेष तौर पर रेखांकित किया. उन्होंने कहा कि झारखंड के लोग सहज एवं सरल होते है. राज्य सरकार इनके हक और अधिकार के लिये वचनबद्ध हैं और पूरी निष्ठा से इस दिशा में काम कर रही है. मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने विकास मूलमंत्र और आधार लोकतंत्र का दृष्टिकोण अपनाया है. झारखंड औधोगिक एवं निवेश प्रोत्साहन नीति 2021 लागू की गई है,  जो अगले 5 वर्षों तक लागू रहेगा. इसका उद्देश्य राज्य में अधिक से अधिक रोजगार के अवसर पैदा करना है.
सीएम हेमंत सोरेन सरकार ने कहा कि राज्य सरकार ने वर्ग 3 के पदों पर नियुक्ति परीक्षा में केवल राज्य से 10 वीं और 12 वीं पास करने वालों को मौका देने का निर्णय लिया है. खेल के क्षेत्र में सलीमा टेट और निक्की प्रधान को 50- 50 लाख नकद राशि का भुगतान किया गया है. राज्य में नई खेल नीति 2020 बनाई गई है, ताकि राज्य के खिकड़ियों को बेहतर अवसर प्रदान किया जा सके. मनरेगा के तहत बिरसा हरित ग्राम योजना, नीलाम्बर पीताम्बर जल सम्रद्धि योजना एवं वीर शहीद पोटो हो खेल विकास योजना की शुरुआत की गई है. जिसका लाभ अब देखने को मिल रहा है. फुलों  झानों आशीर्वाद अभियान से 13 हजार 300 महिलाओं को लाभ मिला है. ये तमाम महिलाएं अब तक हड़िया- दारू की बिक्री से जुड़ी थीं.
वृक्षारोपण का कार्य किया जाएगाहेमंत सोरेन सरकार ने कहा कि झारखंड राज्य कृषि ऋण माफी योजना लागू कर दी गई है. इस योजना के तहत 750 करोड़ रुपये की राशि 1 लाख 82 हजार 561 कृषकों के ऋण माफी खाते में ट्रांसफर की गई है. राज्य सरकार ने साल 2021 – 2022 में झारखंड राज्य फसल राहत योजना प्रारम्भ करने की घोषणा की है. खेती ही किसानों का बैंक है और पशुपालन ही उनका ATM को साकार करने में राज्य सरकार लगी हुई है. समेकित बिरसा ग्राम विकास योजना सह कृषक पाठशाला की शुरुआत करने की घोषणा स्वतंत्रता दिवस पर की गई है. इसी तरह 5 हजार मीट्रिक टन क्षमता के मॉडल शीतगृह का निर्माण कराया जा रहा है. शहरी वानिकी योजना के नाम से नई योजना की शुरुआत की गई है. इसके तहत सड़क किनारे वृक्षारोपण का कार्य किया जाएगा.
1 लाख 28 हजार छात्रों को लाभ मिलने का अनुमानसीएम ने कहा कि मुख्यमंत्री श्रमिक योजना के तहत अब तक 15 हजार 442 लोगों को रोजगार उपलब्ध कराया जा चुका है. मुख्यमंत्री ने एक बार फिर राज्य में लघु एवं कुटीर उधोग के विकास पर जोर दिया है. इसमें संथाल परगना क्षेत्र के बांस शिल्प हुनर को शामिल किया गया है. मुख्यमंत्री लघु एवं कुटीर उधोग विकास बोर्ड के द्वारा 10 हजार 336 लाभुकों का चयन किया गया है. शिक्षा के क्षेत्र में 80 उत्कृष्ट , 325 लीडर स्कूल के साथ 4 हजार 91 पंचायत में आदर्श विद्यालय की परिकल्पना की गई है. मुख्यममंत्री विशेष छात्रवृति योजना की शुरुआत कर दी गई है. इससे 1 लाख 28 हजार छात्रों को लाभ मिलने का अनुमान है.
 500 बेड वाले अस्पताल का निर्माण कार्य प्रगति पर हैवहीं, स्वास्थ्य के क्षेत्र 500 बेड वाले अस्पताल का निर्माण कार्य प्रगति पर होने की बात मुख्यमंत्री ने कही है. राज्य में संपोषित योजना के तहत 420 ग्रामीण पथों के कुल 2 हजार 31 किमी का कार्य किया जा रहा है. जिसमें से 220 किमी का निर्माण कार्य पूर्ण किया जा चुका है. प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क के तहत 592 ग्रामीण पथों के कुल 1 हजार 632 किमी पथों का निर्माण कार्य होना है. इसमें भी 256 किमी सड़क का कार्य पूरा हो चुका है. वहीं,  झारखंड को बिजली के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने के लिये पतरातू में 2400 मेगावाट और NTPC उत्तरी कर्णपुरा में 1980 मेगावाट विधुत उत्पादन केन्द्र स्थापित किये जा रहे है. 59 लाख ग्रामीण परिवारों को नल के द्वारा शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है. मुख्यमंत्री राज्य वृद्धवस्था पेंशन योजना लाभार्थियों की संख्या 7 लाख तक कर दी गई है. खाद्य सुरक्षा योजना के तहत एक रुपये की दर से 5 किलो चावल प्रतिमाह देने का कार्य चल रहा है. अब तक11 लाख 95 हजार लोगों को लाभ मिल चुका है. अपने संबोधन के अंत में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने राज्यवासियों से कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर जारी दिशा निर्देश को मानने की अपील की. समारोह के अंत में 33 पुलिस जवानों को मुख्यमंत्री ने वीरता मेडल देकर उन्हें सम्मानित किया.
पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi. .



RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

Translate »